अटल पेंशन योजना (APY)

0
189
atal-pension-yojana-apy

अटल पेंशन योजना

Atal Pension Yojana अटल पेंशन योजना  का प्रारंभ 2015-2016 में हुआ था। यह योजना भारत सरकार द्वारा शुरू की गई थी। इसका मुख्य उद्देश्य असंगठित क्षेत्र लोगो को पेंशन के माध्यम से लाभ पहुंचाना है ।इस योजना को  सुचारू पेंशन फंड्स रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (PFRDA) के माध्यम से विनियमित एवं नियंत्रित किया जाता है।

संक्षिप्त में यह योजना संगठित क्षेत्र में पेंशन लाभ हेतु जिनके पास कोई सहारा ना हो उनके जीवन को सुरक्षित करने के उद्देश्य से बुढ़ापे में वह आत्मनिर्भर रह सके। इसीलिए योजना बनाई गई है, जिससे कि व्यक्ति को भविष्य में भी आत्मनिर्भर रह सके इसके लिए अटल बिहारी योजना में निवेश का विकल्प आपके समक्ष मौजूद है।

खास बात यह है ,इस योजना की किया एक मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय पेंशन योजना में आती है ।इसमें निवेश के लिए आपको योजना के पूर्व वर्ष में जो आपने खाता खोला है जैसे कि 2015 में तो इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको 5 वर्षों की अवधि तक भारत सरकार से आप सह सहयोग के पात्र माने गए हैं।

इस योजना को तैयार करने का मुख्य उद्देश्य उन व्यक्तियों की मूलभूत दायित्व को कम करना है। इसके साथ ही बचत को बढ़ावा देना है जिससे कि सेवानिवृत्ति (retirement) के दौरान आर्थिक संकट की समस्या ना  उत्पन्न हो। इसमें व्यक्ति को पेंशन की राशि उसके मासिक योगदान पर आधारित होती है ,जो वह स्वयं सुनिश्चित करते हैं ।और इसके साथ ही उनकी उम्र प्रतिबंध है ।

इस योजना के तहत लाभार्थियों को मासिक भुगतान के एवज में उनको संचित निधि दी जाती है। और यदि किसी कारणवश लाभार्थी की आकस्मिक रूप से मृत्यु हो गई तो ऐसे में पेंशन का समस्त लाभ उसके पति को हस्तांतरित कर दिया जाता है। यदि पति और पत्नी दोनों की मृत्यु हो गई हो तो ऐसे में लाभार्थी के द्वारा नामित व्यक्ति को समस्त लाभ एक मुश्त राशि के रूप में दे दिया जाएगा।

अटल पेंशन योजना की कुछ महत्वपूर्ण विशेषताएं

  • इस योजना की प्राथमिक आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए एक स्वचालित डेविड की सुविधा प्रदान की जाती है
  • इस योजना के तहत पेंशन राशि जैसा कि 1 से 60 वर्ष की आयु तक पहुंचने वाले ही योग्य माने जाते हैं । यह उनके निवेश पर निर्भर करता है ,आप 1 वर्ष के दौरान एक बार निवेश की गई राशि को बढ़ाने एवं घटाने का अवसर प्रदान होता है।
  • जैसा कि यह योजना राष्ट्रीय पेंशन योजना के अंतर्गत आती है इसलिए इस योजना का लाभ आपको गारंटीड होता है
  • इस योजना में उम्र के प्रतिबंधित तौर पर है
  • इस योजना के अंतर्गत व्यक्ति को 1000 से लेकर 5000 तक की धनराशि  पेंशन के रूप में मिल सकेगी विशेष बात तो यह है ,कि आप जितनी जल्दी इस योजना में निवेश शुरू करेंगे आपको कम से कम रकम अदा करनी पड़ेगी

इस योजना का लाभ 60 वर्ष की उम्र दराज के लोगों को मिलता है पेंशन के लाभ के लिए आप संबंधित बैंक को सूचना देकर पूरी धनराशि प्राप्त करने की योग्य  है अर्थात आप मासिक योजना प्राप्त कर सकते हैं। गंभीर बीमारी होने की स्थिति में और 60 वर्ष की उम्र से पहले भी इस योजना से हट सकते है मृत्यु होने की पत्नी को मिल जाएगा।

अटल पेंशन योजना हेतु मासिक योगदान राशि क्या है?

मासिक योगदान सूझ -बुझ अंतिम कॉर्पस राशि और वांछित मासिक पेंशन के अतिरिक्त संबंधित व्यक्ति की योजना में योजना में हिस्सा लेते समय आयु कि  पर अंतर्निहित होता  है। अटल पेंशन योजना में निवेश हेतु आप नजदीकि बैंक या डाकखाने में जाकर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

अटल पेंशन योजना( APY) के लाभार्थी को क्या-क्या लाभ मिलते हैं ?

  • इस योजना के तहत 60 वर्ष की उम्र के पड़ाव में व्यक्ति को आर्थिक रूप से अपने बुनियादी आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए निर्धारित राशि मिलती है। जिससे वह अपने दायित्वों का निर्वहन कर सकता है
  • राष्ट्रीय पेंशन योजना होने के नाते इसमें पैसे डूबने की कोई संभावना नहीं रहती भावी समय में आपको इससे लाभ होना पूर्व निर्धारित होता है।
  • योजना का एकमात्र लक्ष्य यह है, कि असंगठित क्षेत्र से संबंधित व्यक्तियों को आर्थिक संकट सेना गुजर ना पड़े

इस योजना की खास बात यह है, कि व्यक्ति के जीते जी तो लाभ प्राप्त कर सकता है, परंतु यदि किसी कारणवश उसकी मृत्यु हो जाती है ,तो उसका लाभ उसकी पत्नी  की मृत्यु के बाद उसके नॉमिनी को एकमुश्त रूप में कॉर्पस हस्तांतरित कर दी जाती है।

अटल पेंशन योजना में निवेश हेतु पात्रता क्या है?

इस योजना में निवेश हेतु व्यक्ति को निवेश के एवज में पेंशन प्राप्त होगी, इसके लिए व्यक्ति को निम्नलिखित आवश्यकताओं को पूर्ण करना होगा।

  • सबसे अहम बात यह है कि वह भारत का नागरिक हूं
  • लाभार्थी के पास अपना सक्रिय  नंबर होना चाहिए
  • कम से कम 20 वर्षों के लिए योजना में योगदान आवश्यक है
  • लाभार्थी की आयु 18 से 40 वर्ष के भीतर होनी चाहिए

उसके आधार से बैंक खाता लिंक होना चाहिए।

  • इस योजना आवेदन में आवेदन करने से पूर्व कोई अन्य योजना का लाभ उठाते नहीं होना चाहिए
  • इसके अतिरिक्त ऐसे व्यक्ति जो इस योजना के तहत लाभान्वित हो चुके हैं। वह स्वचालित रूप से योग्य हैं ,और इस तरह इस योजना में स्थानांतरित होने के पात्र हैं|

अटल पेंशन योजना में आवेदन करने की पूर्ण प्रक्रिया क्या है?

भारत के लगभग सभी बैंकों में अटल पेंशन योजना के अंतर्गत पेंशन खाता खोलने का व्यक्ति के पास अधिकार है।

इस योजना में आवेदन निम्नलिखित चरणों में होता है:

  • प्रथम चरण: सर्वप्रथम आपको बैंक की उस शाखा पर जाना होगा जहां पर आपका खाता खुला हुआ है।
  • द्वितीय चरण: वहां से प्राप्त आवेदन पत्र को विधिपूर्वक भरे
  • तृतीय चरण: आपको अपने आधार कार्ड की दो फोटोकॉपी लगानी होगी
  • चतुर्थ चरण: इसके  साथ ही  अपना सक्रिय मोबाइल नंबर अपने पास रखे

इसके अतिरिक्त आप की संबंधित अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर भी डाउनलोड करके सारी जानकारी भरकर करके जमा कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here