कोविड-19!! कैसे हम समझ सकते है की क्या हम इस बीमारी से संक्रमित है या नहीं ?

0
217
Covid-19-Latest-News

Covid 19 – हम महामारी के दौरान हमारे व्यक्तिगत रक्षक हैं

आज कल पूरे विश्व में एक बहुत ही खतरनाक बीमारी ने आतंक मचा रखा है। यह बीमारी का नाम है कोविड-१९ ,जो कि कोरोना नामक विषाणु से फैल रही है। इस बीमारी पर काबू पाना दिन प्रति दिन कठिन होता जा रहा है।

इस बीमारी ने तो विश्व  की हर सीमा को लांग दिया है। यह बीमारी तो ना कोई जात पात को समझती है, ना अमीर- गरीब में भेद भाव करती  और ना ही उससे शक्तिशाली और शक्तिहीन कि समझ है। यह विषाणु समान स्तर पर सभी को संक्रमित कर रही है।

आज हर इंसान बस इसी सोच में है कि आखिर ये बीमारी है  क्या और किस तरह से पहचाना जा सकता है बीमारी को। कैसे हम समझ सकते है की क्या हम इस बीमारी से संक्रमित है या नहीं ? तो यहां है इस बीमारी के लक्षण जो यह पहचाने में आपकी मदद करेंगे कि क्या आप इस बीमारी से संक्रमित है।

  • अक्सर यह बीमारी में व्यक्ति को बुखार आता है।
  • साथ ही जो व्यक्ति कोरोना से संक्रमित होता है उसे सर में दर्द  और सांस लेने में भी तकलीफ़ चालू हो जाती है। अगर सांस कि तकलीफ़ बहुत ज्यादा नहीं हो तो वो आसानी से ठीक हो जाती है।
  • साथ ही जो व्यक्ति को पहले से डायबिटीज(मधुमेह), अस्थमा , या हृदय से संबंधित कोई भी तकलीफ़ हो तो उन्हें यह बीमारी होने की संभावना ज्यादा होती है। तो उनके लिए यही सलाह है कि वह खुद का ज्यादा ख्याल रखे ।
  • इस बीमारी से संक्रमित व्यक्ति को सर्दी खांसी भी हो सकती है।इसके अतिरिक्त उसका जी भी मचल सकता है। साथ ही साथ व्यक्ति को गंध और स्वाद की हानि भी हो सकती है।
  • एक और लक्षण जो देखा जा रहा है , वो यह है कि जो इस बीमारी से संक्रमित होता है , उस व्यक्ति के मांसपेशीयों में भी दर्द महसूस होता है।
  • इतना ही नहीं अगर यह बीमारी चरम सीमा पर पहुंच जाती है तो शरीर के कई अंग खराब हो जाते है, जिसका परिणाम व्यक्ति की मौत हो जाती है।

यह बीमारी तो विश्व भर के लोगों के लिए एक बहुत बड़ा संकट बन चुकी है। जो इतनी भयानक है कि ना जाने कितनों की जान लेगा। विश्व में इस बीमारी से मारने वालों की संख्या ६००,००० से ज्यादा जा चुका है।

ऐसा नहीं है कि इस बीमारी से ठीक नहीं हुआ जा सकता है। बहुत से लोगों ने बीमारी के खिलाफ जंग जीती है और वापस आए है, पर सबके मन में यह प्रश्न है कि क्या बीमारी से निकालने के बाद इंसान पूरी तरह ठीक हो जाता है?

तो आइए आपको बतातें है की यह बीमारी से इंसान पूरी तरह ठीक हो सकता है या नहीं।

बहुत से व्यक्ति जो इस बीमारी से ठीक है उनमें ये कुछ लक्षण है जो देखे गए है जो ये बताते है कि इस बीमारी से निकला तो जा सकता है परन्तु पूरी तरह  स्वस्थ  होने में समय लगता है।

  • बीमारी से निकलने के बाद भी देखा गया है कि वह लोग  मानसिक बीमारी से बाहर नहीं आ पाते है। वह लोग गहन चिकित्सा के बाद सिंड्रोम के शिकार हो जाते है।
  • जो लोगो उम्र के होते है उन्हें बीमारी से निकालने के बाद रोज़ मरा के काम करने में बहुत तकलीफ़ का सामना करना पड़ता है।
  • बहुत से लोगों को मांसपेशीयों में अत्यंत दर्द का सामना करना पड़ता है साथ ही उनकी मासपेशियां बहुत कमज़ोर हो जाती हैं।
  • यह बीमारी से निकालने के बाद व्यक्ति किसी भी कार्य को एकाग्रता से नहीं कर पाता है।

इस बीमारी से अगर आप स्वयं को बचाना चाहते है तो कुछ बातों को ज़रूरअपनाए ।

  • सैनिटाइजर का इस्तेमाल करे।
  • अपने मुंह को मास्क से ढकें।
  • और हर व्यक्ति सेकोविड-१९ दूरी रखे।

इन बातों का अगर ध्यान रखा जाए तो स्वयं को और दूसरों को भी इस बीमारी से बचाया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here