प्रधानमंत्री वय वंदना योजना : भविष्य के लिए किफायती निवेश

0
339
pradhanmantri-vaya-vandana-yojana

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना

वर्तमान समय की महंगाई को देखते हुए व्यक्ति को कहीं ना कहीं अपने बुढ़ापे के लिए चिंता का सताती रहती है। जैसे कि रिटायरमेंट के बाद उसकी आय जरिया क्या होगा।वह अपने खर्चों को वहन करने के लिए उसे किसी के आगे हाथ फैलाने की आवश्यकता ना पड़े ।

भावी समय में भी वह आत्मनिर्भर रहे। इसके लिए या तो स्वयं व्यक्ति को सोचना होगा या फिर इसका उत्तर दायित्व स्वयं उनकी संतान को लेना होगा ।जिससे कि उनकी वृद्धावस्था को आर्थिक संकट का सामना ना करना पड़े ।

The Central Government has recently launched a scheme called Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana , under which special benefits will be given to the elderly especially.

केंद्र सरकार द्वारा अभी हाल में ही एक योजना शुरू की है प्रधानमंत्री वय वंदना योजना, जिससे तहत विशेष तौर पर बुजुर्गों को विशेष लाभ होगा। इस योजना के तहत आप 10 हजार रुपए तक की एक मासिक पेंशन का इंतजाम आप अपने वृद्ध माता पिता के लिए कर सकते हैं । जिससे कि से आत्मनिर्भर रहे।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के लिए अप्लाई करने के विकल्प:

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना का लाभ सीनियर नागरिक को भारतीय जीवन बीमा निगम के माध्यम से प्राप्त होता है । इसके लिए आपके पास दोनों में से किसी एक विकल्प को सेलेक्ट कर सकते है जैसे कि ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही स्वीकार है।

आपकी जानकारी के लिए बता से कि वित्तीय वर्ष 2018-19 के आम बजट में केंद्र सरकार की ओर से उम्रदराज नागरिकों के लिए इस योजना की अंतिम तिथि को बढ़ाकर 31 मार्च 2020 निर्धारित की गई है। इसके अतिरिक्त अधिकतम सीमा बढ़ कर अब 15 लाख रुपए निश्चित की गई है।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना हेतु जरूरी दस्तावेज:

लाभार्थी के पास की कॉपी एड्रेस प्रूफ के लिए आधार कार्ड अथवा पासबुक की कॉपी ,इसके फर्स्ट पेज की कॉपी

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के अंतर्गत लाभार्थी को मिलने वाले लाभ

उम्रदराज भारतीय नागरिक को इस योजना के तहत को दस साल की अवधि के लिए निरंतर रूप से पेंशन मिलेगी. इस पेंशन कि खास बात यह है कि पेंशन एक निश्चित दर से मिलती रहेगी वो भी इसकी पूरी गारंटी रहेगी ।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के अतंर्गत आप अपनी मर्जी के मुताबिक मासिक, तिमाही, छमाही या फिर सालाना आधार पर लेने के योग्य है ।यह पॉलिसी की एक निश्चित अवधि जो कि मात्र 10 वर्ष की है ।

-दस साल अंतराल में पेंशन के अंतिम भुगतान करने के साथ ही साथ आपको जमा राशि भी वापस कर दी जाती है ।

-इस दूसरी योजनाओं कि अपेक्षा इस प्लान पर टैक्स छूट नहीं नहीं है ।

-इस योजना में आप 15 लाख रुपये तक निवेश अपनी आर्थिक स्थिति के अनुसार कर सकते है , यही नहीं 60 साल या उससे अधिक के उम्रदराज नागरिक भी इसमें निवेश कर करके योजना सहभागी हों सकते है ।

इस योजना की न्यूनतम पेंशन रकम 1000 वहीं दूसरी ओर अधिकतम 10,000 निर्धारित की गई है

-स्कीम के अन्तर्गत डेथ बेनेफिट भी प्राप्त होता है .जैसे कि नॉमिनी को राशि वापस प्राप्त होने का प्रावधान है और इस स्कीम के तहत 8 फीसदी की तय रिटर्न मिलना तय किया गया है ।

पीएफ में बचा बैलेंस ट्रांसफर की तीन शर्तों को पूरा करना होगा:

  • पीएफ से पैसा ट्रांसफर कराने के लिए आपको सर्वप्रथम सबसे खाताधारक को यूएएन (यूनिवर्सल अकाउंट नंबर) एक्टिवेट करना जरूरी है
  • लाभार्थी के बैंक खाते का नंबर, आधार नंबर के साथ ही अन्य डिटेल सही पूर्ण रूप से सही होनी चाहिए
  • पीएफ से पैसा निकालने के लिए लाभार्थी को केवाईसी कराना अनिवार्य है

पीएफ में बचा बैलेंस ट्रांसफर करने की प्रक्रिया:

  • जैसा कि आपको बताया जा चुका है कि सबसे पहले आपको यूएएन नंबर और पासवर्ड के माध्यम से ईपीएफ अकाउंट में लॉग-इन किया जाता है
  • इसके कहीं बाद पेज पर ऊपर दिए गए टैब मौजूद में से ऑनलाइन सर्विसेज में जाना पड़ेगा
  • उसके बाद ड्रॉप डाउन में जाकर वन मेंबर-वन पीएफ अकाउंट ट्रांसफर रिक्वेस्ट पर तुरंत क्लिक करना होगा
  • इसके ठीक बाद आप अपना यूएएन नंबर सही डाले साथ ही अपनी पुरानी पीएफ आईडी फीड करें
  • ऐसा करते ही आपको आपके अकाउंट डिटेल प्राप्त होगी. आपको ट्रांसफर वैलि़डेट करने के हेतु अपनी पुरानी या नई कंपनी को सेलेक्ट करना होगा
  • इसके बाद आपको अपने पुराने अकाउंट को सलेक्ट करके और फिर ओटीपी जनरेट करके ओटीपी प्राप्त करने का वेट करे ।
  • ओटीपी (OTP) आते ही उसे डालने के बाद आपकी कंपनी को ऑनलाइन मनी ट्रांसफर प्रोसेस का रिक्वेस्ट खुद चली जाएगी। यह काम तीन दिन की अवधि पूरा होगा।
  • अब कंपनी पैसे ट्रांसफर करेगी फिर ईपीएफओ का फील्ड ऑफिसर के द्वारा वेरिफाई होगा . अधिकारी के वेरिफिकेशन के बाद ही आपका पैसा ट्रांसफर हो सकेगा
  • अब ये देखना होगा कि आपकी ट्रांसफर रिक्वेस्ट पूरी हुई अथवा नहीं इसके लिए आपको ट्रैक क्लेम स्टेटस पर अपना स्टेटस चेक करना होगा, ऑफलाइन ट्रांसफर के लिए आपको सिर्फ फॉर्म 13 भरकर अपनी पुरानी या नई कंपनी को सौंप देना होगा

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना पैसा कब और कितनी रकम निकली जा सकता है ?

  • यदि आप दो महीने से बेरोजगार हैं तो आप ऐसे में अपने ईपीएफ का पूरा पैसा खाते से निकलवा सकते है
  • नौकरी छोड़ने के एक महीने बाद आप अपने खाते से 75 फीसदी पैसा निकाल सकते है
  • यही नहीं आपको काम करते हुए दस साल पूरे नहीं हुए हैं तब भी आप अपने पेंशन की पूरी रकम निकाल सकते हैं
  • पीएफ (PF) कि पूरी रकम सामान्य तौर पर 58 साल की निर्धारित की गई है उसके बाद ही रकम निकाली जा सकती है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here