भूलेख : भारत सरकार की अनूठी पहल!

0
249
UP-Bhulekh-Jamabandi-Khasra

भूलेख खतौनी उत्तर प्रदेश

भूलेख को विभिन्न नामों से जाना जाता है जैसे कि जमाबंदी, खेत के कागजात ,खाता भूमि अभिलेख आदि। भूलेख पोर्टल का निर्माण उत्तर प्रदेश सरकार के माध्यम से कंप्यूटर में समस्त भूमि पर आधारित जानकारी भविष्य के लिए सुरक्षित करने के लिए उद्देश्य से पूर्ण रूप से पारदर्शी कर दिया है ।

जिससे कि दिन प्रतिदिन  भूमि पर आधारित  संपूर्ण ब्यौरा की जानकारी एक सुव्यवस्थित एवं सुनियोजित तरीके से भावी समय के लिए संरक्षित रखा जा सके।

भूलेख खतौनी उत्तर प्रदेश के भूस्वामी को क्या लाभ प्राप्त होता है ।

  • भूलेख का से मतलब जमीन का पूर्ण रूप  स्पष्टीकरण के अतरिक्त  आप जमीन पर स्वामित्व या  हक जता सकते हैं| क्योंकि इससे इस तथ्य की पुष्टि हो जाती है कि अमुक जमीन का स्वामी कौन है?
  • जमीन के कागजात अपके पास होने से के नाते आप बेहद सहज तरीके से किसी भी बैंक जरूरत पड़ने पर लोन ले सकते है| इसके साथ ही फसल बीमा आपको मिल सकता है।
  • जमीन का बंटवारा के दौरान आप  भूलेख ,यानी की जमीन के डाक्यूमेंट्स  का होना बेहद आवश्यक होता है ।
  • उत्तर प्रदेश खसरा खतौनी की official portal पर आप  भूमि भू अभिलेख नकल इस योजना के माध्यम से  आप अपना खतौनी खाता ऑनलाइन ना सिर्फ  देख सकते हैं बल्कि डाउनलोड भी कर सकते है।
  • इस पोर्टल से आपको पटवार के पर चक्कर लगाने  की जरूरत नहीं पड़ेगी

उत्तर प्रदेश भू अभिलेख सेवा  के माध्यम से मिलने वाले लाभ-

  • आपको आधिकारिक पोर्टल पर जाकर| अपना खसरा नंबर या जमाबंदी नंबर टाइप करने के बाद आप घर बैठे अपना नक्शा ज्ञात कर सकते हैं |
  • आप अपनी सभी भूलेख पर आधारित जानकारी घर बैठे ऑनलाइन देख सकते है साथ है डाउनलोड भी कर सकते है|
  • खेत का नक्शा प्राप्त करने हेतु आपकोउत्तर प्रदेश से लोगों को पटवारखाने के चक्कर नहीं करने पड़ेंगे
  • भू लेख नक्शा उत्तर प्रदेश इस सेवा के द्वारा आप रजिस्ट्रेशन  के बाद भी पैसे और समय की पूरी तरह बचत होगी।
  • इस प्रक्रिया से आपके जमीन से आधारित जानकारी डिजिटल का रूप में सरंक्षित कि जाती है

यूपी अभिलेख :खसरा खतौनी जमाबंदी नकल प्राप्त करने के लिए ऑनलाइन प्रक्रिया इस प्रकार है-

  • सर्प्रथम आपको उत्तर प्रदेश भूलेख की कॉपी डाउनलोड करने हेतु  यूपी भूलेख की सम्बन्धित आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट होगा
  • वेबसाइट ओपन होते ही  आपको ऑनलाइन facility  की लिस्ट आ जाएगी
  • इसके बाद  आपको जैसा कि  हम अभी खसरा खतौनी की जिक्र  कर रहे हैं तो इसके लिए आपको “खतौनी (अधिकार अभिलेख) की नकल देखें” पर पहले तो  क्लिक करना होगा
  • एक नए पेज ओपन हो जाएगा जिसमें  आपको कैप्चा कोड भरने की आवश्यकता होती है , जो  साधारण तौर पर अंक या अक्षर फोटो में देखकर आपको निश्चित जगह भरनी होती उसके बाद कहीं जाकर सबमिट पर क्लिक करना होता है ।

इन सब प्रक्रिया को करने के बाद एक नया पेज ओपन होगा जिसमें आपको निम्नलिखित जानकारी देनी होगी

  • ज़िला
  • तहसील
  • ग्राम
  • खसरा/खतौनी  नंबर या
  • सर्वे नंबर या पट्टे की जानकारी

उपरोक्त सभी आपको  जानकारी सही  भरनी होगी   इत्यादि देने या चुनने का विकल्प दिया होता है

  • सबसे पहले अपने जनपद का चुनाव कीजिए उसके बाद तहसील चुनिए   फिर कहीं ग्राम को चुनें | यदि सूचि में ग्राम नहीं दिखाई दे रहा तो चिंता ना करे इसके लिए आपको ग्राम का प्रथम अक्षर को चुन ले
  • आपके चुनते ही चुनाव  आपको अपनी समस्त  जमीन की जानकारी साझा करनी होगी आप बेहद ही सहज तरीके से।तीन प्रकार से ढूंढ सकते है बस आपको कुछ जानकारी देनी होगी जैसे कि:
  • “खसरा/गाटा संख्या द्वारा”,
  • “खाता संख्या द्वारा”,
  • “खातेदार के नाम द्वारा”
  •  “नामांतरण दिनांक से”

उपरोक्त जानकारी के माध्यम से खोज सकते है

  • इसके बाद आपको उचित टैब का चयन करना होगा साथ ही आवश्यक विवरण दर्ज करना होगा।
  • उसके बाद आपको  बॉक्स पर क्लिक करना होगा।|
  • समस्त जानकारी चुनने के ठीक बाद भूलेख की
  • संपूर्ण जानकारी आपको आपके कंप्यूटर पर सापेक्ष रूप  से दिखाई  देगी|
  • अंत में आपकोभूलेख का प्रिंट आउट  भी अपनी सुविधा के लिए निकाल सकते हैं, आपको इसे प्राप्त करने  डाउनलोड करना होगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here